Love Shayari in Hindi

Love shayari for everyone. Latest and new shayari in hindi for your husband or wife.

  1. लम्हे ये सुहाने साथ हो न हो,
    कल में आज ऐसी बात हो न हो,
    आपसे प्यार हमेशा दिल में रहेगा,
    चाहे पूरी उम्र मुलाकात हो न हो।
  2. न गुलफ़ाम चाहिए, न सलाम चाहिए,
    न मुबारक का कोई पैग़ाम चाहिए,
    जिसको पी कर होश उड़ जायें,
    लबों को ऐसा.. जाम चाहिए!
  3. संभाले नहीं संभलता है दिल,
    मोहब्बत की तपिश से न जला,
    इश्क तलबगार है तेरा चला आ,
    अब ज़माने का बहाना न बना।
  4. बाहर से सूरज की गर्मी की तरह
    अंदर से बारिश की बूंदो की तरह
    क्या बोलू उसके बारे में..वो तो हैं
    घने बादलो में इंद्र धनुष की तरह
  5. उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है,
    उनके इंतजार में दिल तरसता है,
    क्या कहें इस कम्बख्त दिल को,
    अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है।
  6. खुदा की फुर्सत में एक पल आया होगा,
    जब उसने तुझ जैसा प्यारा इंसान बनाया होगा,
    न जाने कौन से दुआ कुबूल हुई हमारी,
    जो उसने मुझे तुझसे मिलाया होगा.
  7. प्यार तो करते हैं पर जताना नहीं आता ,
    दिल चाहता है उन्हें पर बताना नहीं आता ,
    प्यार करते हैं उनसे ये उनको भी मालूम है ,
    पर कितना करते हैं बस यही समझाना नहीं आता.
  8. गुलाब खिलते रहें ज़िंदगी की राहों में,
    हँसी चमकती रहे आपकी निगाहों में,
    खुशियाँ ही मिलें हर कदम पर आपको,
    निकलती है मेरे दिल से बस मेरे यही दुआ..
  9. इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए,
    कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए,
    आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था,
    आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए।
  10. वो समय और वो पल कुछ अजीब होंगे,
    इस दुनिया में हम जब खुशनसीब होंगे,
    दूर होने पर जो इतना याद करते हैं हम आपको,
    क्या होगा जब आप मेरे करीब होंगे !!
  11. राह में संग चलूँ ये न गँवारा उसको,
    दूर रहकर वो करता है इशारे बहुत,
    नाम तेरा कभी आने न दिया होंठों पर,
    यूँ तेरे जिक्र से शेर सँवारे हैं बहुत।
  12. दिल ही दिल में तुम्हें प्यार करते हैं,
    चुप-चाप मोहब्बत का इजहार करते हैं,
    ये जानते हुए भी आप मेरी किस्मत में नहीं,
    पर पाने की कोशिश बार-बार करते है।
  13. तुम हक़ीकत नहीं हो हसरत हो,
    जो मिले ख़्वाब में वही दौलत हो,
    किस लिए देखती हो आईना,
    तुम तो खुदा से भी ज्यादा खूबसूरत हो।
  14. रोज साहिल से समंदर का नजारा न करो,
    अपनी सूरत को शबो-रोज निहारा न करो,
    आओ देखो मेरी नजरों में उतर कर खुद को,
    आइना हूँ मैं तेरा मुझसे किनारा न करो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *