Goodnight Shayari/sms in Hindi

  1. ऐ चाँद उनको मेरा पैग़ाम कहना ,
    ख़ुशी का दिन और हसीं शाम कहना ,
    जब वो देखे तुझे बाहर आ कर ,
    तू उनको मेरा सलाम कहना.
    Good Night..
  2. दुनिया में रहकर सपनों में खो जाओ
    किसी को अपना बना लो या किसी के हो जाओ
    अगर कुछ भी नहीं कर सकते हो तो डोंट वरी
    चादर -तकिया लो और सो जाओ
  3. ये रात बनकर चाँदनी तेरे आँगन में आए,
    ये तारे सारे लोरी गाकर तुझे सुलाये,
    हो तेरे इतने अच्छे सपने मेरे दोस्त,
    कि नींद में भी तू मुस्कुराए !!
    Have a Good Night!
  4. अगर मै हद से गुज़र जाऊ तो मुझे माफ़ करना,
    तेरे दिल में उत्तर जाऊ तो मुझे माफ़ करना,
    रात में तुझे देख के तेरे दीदार के खातिर,
    पल भर जो ठहर जाऊ तो मुझे माफ़ करना.
  5. इससे पहले कि रात हो जाए,
    क्यों न एक मुलाकात हो जाए,
    अपने मोबाइल से एक प्यारा सा मेसेज ही कर दो,
    जिस से शोर भी न हो और बात भी हो जाए.
  6. आप हमारे सबसे अच्छे दोस्त हैं,
    यह दिल से कहते हैं हम,
    इसीलिए आपको रोज़ याद करतें हैं हम,
    बाकी कुछ कहें या ना कहें,
    रोज़ रात को आप को “गुड नाइट” कहते हैं हम!
  7. ऐसा लगता है कुछ होने जा रहा है,
    कोई मीठे सपनो मे खोने जा रहा है,
    धीमी कर दे अपनी रोशनी ऐ चाँद,
    मेरा कोई अपना सोने जा रहा हैं!
  8. देर रात जब किसी की याद सताए,
    ठंडी हवा जब ज़ुल्फोन को सहलाए,
    कर लो आँखें बंद और सो जाओ..
    क्या पता जिसका है ख़याल
    वो खवाबों में आ जाए….Good Night
  9. अपनी आँखों के अश्क बहा कर सोना,
    तुम मेरी यादो का दिया जलाकर सोना,
    डर लगता है नींद ही छीन न ले तुझे,
    तू रोज़ मेरे ख़्वाबों में आ कर सोना.
  10. अगर मै हद से गुज़र जाऊ तो मुझे माफ़ करना,
    तेरे दिल में उत्तर जाऊ तो मुझे माफ़ करना,
    रात में तुझे देख के तेरे दीदार के खातिर,
    पल भर जो ठहर जाऊ तो मुझे माफ़ करना.

  11. रात क्या हुयी रौशनी को भूल गए,
    चाँद क्या निकला सूरज को भूल गए,
    माना कुछ देर हम ने आपको को SMS नहीं किया,
    तो क्या आप हमें याद करना भूल गए.

  12. अगर रात को कोई तुम्हारे बिस्तर पे आये,
    तुम्हें हैरान करें,तुम्हारे जिस्म से खेले,
    तुम्हे चुमे,तो ज्यादा रोमेन्टीक मत हो जाना,
    मच्छर अगरबत्ती जलाना और सो जाना…
    Good Night. शुभरात्री…

  13. रात आती हैं और तेरी याद चली आती हैं
    किसी शहर से तेरी आवज़ चली आती हैं
    चाँद ने खूब सही है सूरज की अगन,
    तेरी ये आग मिझसे नहीं सही जाती हैं,
    दिल मे उतरी है तेरी दर्द भारी आँखे,
    मेरी आँखो मे वही प्यास जाग जाती है,
    हमने देखा था खुद को तेरी सूरत में,
    आईना देख कर अब रात कट जाती हैं!!

  14. मीठी सी रात में धीरे से तू आ गयी
    मेरे दिल की धडकन में तू समाँ गयी
    थारे प्यार में मैं खो गयो हूँ
    याद करके थाने मैं तो सो जाऊं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *